बॉयफ्रेंड से बेवफाई का बदला लिया

मैंने बॉयफ्रेंड से टॉर्चर सेक्स करके उसकी बेवफाई का बदला कैसे लिया? मैं अपनी सहेली के साथ एक जिम में प्रशिक्षक थी. उसने मेरी सहेली को पटाकर चुदाई कर दी.

हाय फ्रेंड्स, मैं सिमरन हूं. मैं एक टॉर्चर सेक्स आपको बताना चाहती हूं जब मैं एक जिम प्रशिक्षक के रूप में काम कर रही थी.
तब मैं नोएडा में रहती थी और मेरे पास मेरे कई सारे क्लाइंट्स थे जो अपने वर्कआउट को लेकर बहुत सीरियस थे.

मैंने भी कई सालों की मेहनत के द्वारा एक बहुत अच्छी फिगर बनाई हुई थी.

उस वक्त मेरा एक बॉयफ्रेंड भी था जो मेरे ही कॉलेज में था. वैसे मेरे क्लाइंट्स की ओर से भी मुझे बहुत सारे ऑफर आ रहे थे लेकिन मैंने अपने बॉयफ्रेंड के साथ वफादारी निभाई और किसी को भाव नहीं दिया.

मगर मुझे बाद में पता लगा कि मेरे जैसी हॉट गर्लफ्रेंड होने के बाद भी मेरा बॉयफ्रेंड नवीन मेरी ही सह प्रशिक्षक रिया के साथ सो चुका है और उसके साथ रंगरेलियां मना रहा है.
यह जानकर मुझे बहुत गुस्सा आया और मेरा दिमाग खराब हो गया.

अब मैंने नवीन को सबक सिखाने और उससे बदला लेकर उसके किये की सजा देने की सोच ली थी.

कुछ दिनों से नवीन मुझे इग्नोर कर रहा था. फोन किया तो कॉल नहीं उठा रहा था.
मैंने उसको बहुत मैसेज भी किये लेकिन उसने कोई जवाब नहीं दिया.

फिर मैंने रिया से बात की.
रिया ने बताया कि नवीन ने उसको नये क्लाइंट से मिलवाने के बहाने फंसाया था.

क्लाइंट से मिलवाने के बाद वो रिया को बार में ले गया. वहां पर दोनों ने पार्टी का जश्न किया और उसने रिया को बहुत शराब पिला दी.

नशे की हालत में वो उसको रूम पर ले गया और उसकी चूत मार ली. फिर बाद में रिया को पता चला कि जिस क्लाइंट से रिया को नवीन ने मिलवाया था वो तो नवीन का ही कोई दोस्त था जो नया क्लाइंट बनने का नाटक कर रहा था.

ये सारी कहानी जानकर तो मुझे और ज्यादा गुस्सा आया कि वो कितना नीच इन्सान है.
अब मैंने सोच लिया था कि मैं उसको उसी के जाल में फंसा कर रहूंगी.

मैंने रिया से कहा कि वो नवीन को मैसेज करे और उससे कहे कि वो उससे मिलने उसके अपार्टमेंट में आये. मैंने नोएडा में ही अपनी एक दोस्त का अपार्टमेंट अरेंज कर दिया जिसमें सारी मूलभूत सुख-सुविधाएं थीं.

अब मैं एक हार्डवेयर के स्टोर पर गयी और मैंने वहां से एक डक्ट टेप, नायलॉन की रस्सियां, मोमबत्ती और कुछ क्लिप ले लीं.
मैंने रिया से कहा कि वो नवीन को रिझाकर बुलाये.

नवीन झट से मान गया. वो चूत का बहुत भूखा था.

मेरा प्लान था कि मैं सारी घटना कैमरे में रिकॉर्ड कर लूंगी ताकि बाद में भी वो कभी हमें परेशान न कर पाये. मैं दो घंटे पहले ही वहां पहुंच गयी और मैंने पूरी सोसायटी का जायजा लिया.

मेरी सहेली ने पहले ही वहां पर बता दिया था कि मैं वहां आऊंगी.

मैंने वहां पर जाकर अपार्टमेंट में अंदर बेडरूम में एक गमले में गो-प्रो कैमरा लगा दिया ताकि सारा सीन रिकॉर्ड हो जाये.

फिर मैंने रूम की चाबी को डोर मैट के नीचे रख दिया और कागज पर एक मैसेज लिख कर छोड़ दिया- तुम्हें आज मेरे नियम मानने होंगे, चाबी मैट के नीचे है. आज रात मैं तुम्हारी मालकिन हूं. या तो नियम मान लेना या फिर सजा पाने के लिए तैयार रहना. जैसे ही तुम रूम में दाखिल होगे तु्म्हें अपने घुटनों पर ही आना होगा.

ये सब मैसेज मैंने साजिश के तहत रिया के फोन से ही किये थे ताकि उसको किसी और के होने का शक न हो. मैंने अपनी जिम की आउटफिट पहन ली और टोपी वाली एक टीशर्ट पहन ली जिसमें मेरा ऊपर का आधा चेहरा ढक गया था.

मैं रूम के अंदर ही थी और जैसे ही मुझे पता लगा कि कोई दरवाजे की कुंडी को खोल रहा है तो मैं पीछे की ओर घूम गयी.

अंदर दाखिल होकर नवीन ने कहा- यस मैडम!

सबसे पहले मैंने उसको आंखें बंद करने के लिए कह दिया.

उसने जब आंखें बंद कर लीं तो मैंने पलट कर देखा.
उसकी आंखें बंद थीं और मैं उसके पास गयी.

मैंने उसकी आंखों पर पट्टी बांध दी और उसकी गर्दन पर फूक मारकर उसके बदन में एक झुरझुरी पैदा कर दी.

ये तूफान से पहले की खामोशी थी.

फिर मैंने उसके हाथ पकड़ लिये और उसको खींचकर ले चली.
वो मेरे पीछे पीछे चलने लगा.

उसको मैं बेडरूम में ले गयी और बेड के पास ले जाकर उसको बेड पर धक्का दे दिया.
मैंने रिया की आवाज में फोन रिकॉर्डिंग से कहा- नवीन, ये तुम्हारी जिन्दगी का सबसे यादगार टाइम होने वाला है.
उसको विश्वास हो गयी कि मैं रिया ही हूं और वो मुस्कराने लगा.

फिर मैंने उसको बांधना शुरू कर दिया.

पहले मैंने उसके दोनों हाथों को बांध दिया. फिर उसके दोनों पैरों को भी लोहे के बेड से बांध दिया.
मैंने ये सुनिश्चित किया कि गांठ कस कर बंधी हो ताकि वो हिलकर खुद को छुड़ा न ले.

मैंने उससे पूछा- तुम्हें मजा आ रहा है बेबी इसमें? (मैंने फोन में रिकॉर्डिंग चलाई थी)

अब मैंने उसके मुंह पर डक्ट टेप लगा दी और अब वो पूरी तरह से मेरी गिरफ्त में था.
मैं उसके साथ कुछ भी कर सकती थी.

अब अंत में मैंने हर तरह से चेक किया कि सब कुछ सही है और फिर मैंने अपनी टीशर्ट को उतार दिया.
उसके बाद मैंने नवीन के मुंह और आंखों पर बंधी पट्टी उतार दी.

मुझे सामने देखकर वो चौंक गया.
वो एकदम से बोला- साली!! तू यहां क्या कर रही है??

मैंने तुरंत उसके मुंह पर एक तमाचा मारा और बोली- साले चूतिये, तूने मुझे धोखा दिया? मैं कितना प्यार करती थी तुझसे, किसी और को मैंने देखा तक नहीं. बिस्तर पर भी तूने जो कहा मैंने वो किया. मैं तेरी गुलाम बनकर रही, अब देख मैं तेरे साथ क्या करती हूं. आज मैं तुझे दिखाऊंगी कि इसमें कितना दर्द होता है.

अब मैंने फिर से उसके मुंह पर जोर का तमाचा मारा. अब वो आवेश में आ गया था.
उसका चेहरा लाल हो गया था.

लेकिन मैंने उसी पर तीन चार थप्पड़ और जड़ दिये और बोली- ये तेरे धोखे लिये, ये मेरी दोस्त रिया के साथ सोने के लिए और ये हमारी रिलेशनशिप खराब करने के लिए।

अब उसके चेहरे पर कुछ शर्म दिखाई पड़ रही थी.

मैं बोली- साले कुत्ते, ये तो बस एक शुरूआत है. अब मैं तुझे दिखाऊंगी कि किसी को सताने और उसका फायदा उठाने में सामने वाले को कितना दर्द होता है.

अब मैंने कैंची ली और उसकी टीशर्ट को काटकर एक ओर फेंक दिया. अब वो डर रहा था. फिर मैंने मोमबत्ती जला दी. जब मोम पिघलने लगा तो मैंने उसकी छाती पर पिघलता मोम टपकाना शुरू कर दिया.

वो दर्द के मारे जोर जोर से चीखने लगा.
मैं उसको तमाचे मारती रही. वो मुझे रुकने के लिए कहता रहा. मगर मैं मोम डालती रही.

फिर मैंने उसके बाल पकड़ कर खींच लिये. फिर उसके मुंह पर थूक दिया.

अब मैं नीचे की ओर बढ़ी. मैंने उसकी पैंट को कैंची से फाड़ दिया. फिर उसकी छाती पर क्लिप चिपका दीं. क्लिप मैंने वहां चिपकाईं थीं जहां पर मोमबत्ती का गर्म मोम टपका हुआ था. वहां पर उसको पहले से ही जलन हो रही थी और अब दर्द भी होने लगा.

फिर मैंने उसकी अंडरवियर को भी कैंची से काट डाला. मैंने उसके लंड को जोर से दबा दिया और उसकी गोलियों को जोर से लात मार दी.

अब वो मेरे सामने गिड़गिड़ाने लगा. मुझसे आजादी की भीख मांगने लगा.

मगर मैंने उसके बाल खींचे और बोली- अगर तेरा पानी जल्दी निकल गया तो और ज्यादा सजा मिलेगी. इसलिए अपने पानी को रोक कर रखना.

मैंने एक बर्फ का टुकड़ा लिया और उसके लंड पर रख दिया. अब मेरी चूत में भी गीलापन आने लगा था. मुझे उसके साथ ये सब करने में बहुत मजा आ रहा था.

उसके बाद मैंने उसके मुंह से डक्ट टेप निकाल दी. अब मैंने अपनी पैंट और पैंटी को हल्की सी नीचे किया और उसके मुंह पर चूत को रगड़ने लगी.

मैं वहशीपन से उसके मुंह पर चूत को रगड़ रही थी.

अब मैंने वो बर्फ का टुकड़ा हटाया और उसको मुंह में रख लिया. बर्फ हटते ही उसका लंड फिर से तन गया. फिर मैं उसके लंड को हाथ से सहलाकर छेड़ने लगी.

वो चारों ओर से बंधा हुआ था और उसका लंड बिल्कुल तड़प रहा था.

नवीन के लंड पर हाथ लगते ही वो उछलने लगता था. वो चाह रहा था कि उसके लंड को कोई छेद मिल जाये इसलिए बार बार अपनी गांड को नीचे से उठा रहा था.

मगर मैंने उस पर कोई रहम नहीं किया. कभी उसकी गोटी तो कभी उसके लंड के टोपे को छेड़ती रही. फिर अंत में उससे बर्दाश्त न हुआ और उसके लंड ने मेरे मुंह पर ही पिचकारी छोड़ दी.

मैं चिल्लायी- साले, तेरी हिम्मत कैसे हुई मेरे मुंह पर पानी फेंकने की??
अब मैंने कुछ और क्लिप उसकी बदन पर चिपका दीं. फिर मैंने लकड़ी की छड़ी उठाई और उसकी जांघों के अंदरूनी हिस्से पर मारने लगी.

मुझे अब याद आ रहा था कि कैसे वो मुझे मेरे पीरियड्स के दौरान ऐसे ही परेशान किया करता था.
अब मेरी बारी थी.

नवीन मुझसे रुकने की विनती करने लगा.

मैंने अपने टॉप को भी उतार दिया और अपने चूचे आगे करके उसके मुंह पर रख दिये. फिर उसको बूब्स चूसने के लिए कहा.

उसकी हालत खराब हो रही थी. उसमें जैसे जान नहीं बची थी लेकिन फिर भी उसने मेरे बूब्स को अच्छे से चूसा.

इस दौरान मैं उसकी गोटियों को लगातार भींचती रही.

अब तक मेरी चुदास भी जाग चुकी थी. नवीन का लंड दोबारा से खड़ा हो चुका था. मैंने उसके लंड को हिलाया और फिर उसके लंड पर बैठने लगी.

मैंने दोनों टांगें खोलकर उसके लंड को चूत पर लगवा लिया और उस पर बैठती चली गयी.
मेरे बॉयफ्रेंड के लंड को मैंने चूत में ले लिया और मुझे मजा आने लगा.

मैंने और नवीन ने बहुत बार जोरदार सेक्स का मजा लिया था लेकिन आज मुझे अलग ही मजा आ रहा था.
इससे पहले नवीन मुझ पर चढ़ा होता था लेकिन आज मैं उसकी मालकिन थी.

उसके लंड पर मैं तेजी से उछल उछल कर ऊपर नीचे हो रही थी. जैसे उसके लंड की सवारी कर रही थी.

फिर बीच में मैं रुकी और उसके लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी.

मैंने उसके लंड को खूब रगड़ा और फिर उसके मुंह पर थूक कर फिर से लंड को चूत में ले लिया और कूदने लगी.

मैं जल्दी ही झड़ गयी. मगर अभी उसके मुंह पर मूतना बाकी थी.

अंत में दो मिनट के अंतराल के बाद मैंने उसके मुंह पर मूत दिया. उसने मेरा मूत गिरता देखकर आंखें बंद कर लीं और मैंने उसका चेहरा भिगो दिया.

फिर मैं उठ गयी.
मैंने उसके बदन पर एक कम्बल डाल दिया. फिर मैंने अपने कपड़े पहन लिये.

फिर उसको बता दिया कि उसकी ये वीडियो रिकॉर्ड हो चुकी है और आइंदा कभी वो मेरे या मेरी फ्रेंड्स के पास भी फटका तो ये वीडियो वायरल कर दी जायेगी.

उसके बाद मेरी सहेली भी फ्लैट पर आ पहुंची.

नवीन की ये हालत देखकर वो भी हंसी और फिर नवीन वहां से शर्मिंदा होकर निकल गया.
इस तरह से मैंने नवीन से उसकी बेवफाई का बदला लिया.

मैं आशा करती हूं कि आपको इस स्टोरी में मजा आया होगा. अगर आप मुझसे संपर्क करना चाहते हैं वीडियो या कॉल के माध्यम से … तो आपका स्वागत है.

आप मुझे भी अपनी बीडीएसएम टॉर्चर सेक्स बतायें और अपने अनुभव मेरे साथ भी शेयर करें. अगर आपकी भी कोई ऐसी ही फैंटेसी है तो कमेंट करें.

ऐसी ही कुछ और गरमा गर्म कहानियाँ: